Wed. Aug 10th, 2022

गृहमंत्री अमित शाह के बंगाल दौरे से पहले टीएमसी विधायकों बागी तेवर, सीएम ममता की नींद उड़ी

कोलकाता। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव से पहले सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के लिए चुनौतियां बढ़ती जा रही हैं। एक तरफ नंदीग्राम के विधायक शुभेंदु अधिकारी ने विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा देकर तृणमूल कांग्रेस से नाता तोड़ने की दिशा में एक और कदम बढ़ा दिया है, वहीं कुछ अन्य विधायकों और एक लोकसभा सांसद ने भी गृहमंत्री अमित शाह के बंगाल दौरे से पहले बागी तेवर दिखाकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की मुश्किलें बढ़ा दीं। इनमें से ज्यादातर नेता दक्षिण बंगाल के हैं, जहां बीजेपी का प्रदर्शन लोकसभा चुनाव में ठीक नहीं रहा था। उत्तर बंगाल में बीजेपी ने स्वीप किया था और उसे 7 में से छह सीटों पर जीत मिली थी।

ये घटनाक्रम ऐसे समय में हुए जब मुख्यमंत्री ममता बनर्जी उत्तर बंगाल में रैलियां करने में जुटी थीं। एक के बाद एक कई टीएमसी नेता पार्टी और नेतृत्व के खिलाफ असंतोष जाहिर कर रहे हैं। बर्दवान पूर्व लोकसभा सीट से दो बार के सांसद सुनील मंडल ने पार्टी में सुधार की जरूरत बताते हुए प्रशांत किशोर की भूमिका पर सवाल उठाए हैं। 2014 में मंडल की जीत से पहले यह सीट मार्क्सवादियों के सबसे मजबूत गढ़ों में से एक था ।

पार्टी में चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर और उनकी कंपनी आई-पैक की आवश्यकता पर सवाल उठाते हुए मंडल ने कहा, ”क्या यह स्वीकार्य है कि हम में से जिन लोगों ने लोगों के बीच जमीन पर काम किया और कार्यकर्ता के रूप में का करते हुए यहां तक पहुंचे, आई-पैक के पेड कर्मचारियों से निर्देश लें कि कहां और कैसे प्रदर्शन करना है?”

मंडल ने कहा, ”बंगाल के लोग संवेदनशील और बुद्धिमान हैं। प्रदर्शन ही वोट नहीं दिला सकते हैं।” पूर्व बर्दवान में मंडल के समर्थन में कई पोस्टर देखे जा सकते हैं। अटकलें हैं कि अधिकारी और कुछ अन्य असंतुष्ट विधायक उनसे मुलाकात कर सकते हैं।”

24 परगना जिले में डायमंड हार्बर से विधायक दीपक हलधर, पूर्व बर्दवान जिले के कलना से विधायक बिश्वजीत कुंडु, पश्चिमी बर्दवान जिले के पंडाबेश्वर से विधायक जितेंद्र तिवारी ने भी पार्टी नेतृत्व के खिलाफ बयानबाजी की है। तिवारी ने बुधवार सुबह एक रैली में कहा, ”जहां तक बंगाल में पब्लिक सपोर्ट की बात है, ममता बनर्जी के बाद जो नाम आता है वह है शुभेंदु अधिकारी।” एक अन्य घटनाक्रम में वन मंत्री राजीब बनर्जी के समर्थकों ने पूर्वी मिदनापुर सहित कई जिलों में प्रदर्शन किए हैं। मंत्री ने मंगलवार को एक सार्वजनिक कार्यक्रम में कई बड़ी बातें कही थीं।

उधर पार्टी में मची भगदड़ के बीच मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कूच बिहार में एक रैली में कहा, ”लोग हर दिन अपना चरित्र नहीं बदल सकते हैं। आप हर दिन कपड़े बदल सकते हैं लेकिन विचारधारा नहीं। क्या आप लोगों, आम आदमी का मुझ में विश्वास है? जो लोग शुरुआत से पार्टी के साथ हैं, अब भी हैं। कुछ लोग जो बाद में आए, वे हमें छोड़ रहे हैं। इससे कोई फर्क नहीं पड़ेगा।” बता दें, कूच बिहार साउथ सीट से टीएमसी के विधायक मिहिर गोस्वामी पिछले महीने ही बीजेपी में शामिल हो चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.