Thu. Aug 11th, 2022

बायो-बबल’ में आईपीएल

80 दिन तक आईपीएल की ‘अपनी अलग दुनिया होगी, इसके बाहर कोई नहीं जा सकता, अंदर आने से पहले खिलाड़ियों को देने पड़े हैं पांच टेस्ट|

एक ऐसा वातावरण है, जिसमें रहने वाला बाहरी दुनिया से पूरी तरह कट जाता है। यानी, आईपीएल में हिस्सा ले रहे प्लेयर, सपोर्ट स्टाफ, मैच ऑफिशियल यहां तक की होटल स्टाफ और कोरोना टेस्ट करने वाली मेडिकल टीम तक को तय दायरे के बाहर जाने की अनुमति नहीं है। इसके दायरे में रहने वाला बाहरी दुनिया के किसी भी व्यक्ति के संपर्क में नहीं आ सकता।

बबल में शामिल हर मेंबर को केवल ग्राउंड और उनके होटल में जाने की अनुमति होगी। इसके अलावा ये किसी से नहीं मिल सकेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.