Mon. Aug 8th, 2022

इमरान खान के सांसद की उम्र 49 साल, 18 वर्षीय युवती से रचाई शादी

इस्लामाबाद। पाकिस्तान (Pakistan) में इमरान खान (Imran Khan) की पार्टी पीटीआई के सांसद और पॉपुलर टेलीविजन होस्ट डॉ आमिर लियाकत हुसैन (Dr Aamir Liaquat Hussain) ने 18 वर्षीय लड़की के साथ तीसरी बार शादी रचा ली है. 49 वर्षीय हुसैन ने 18 वर्षीय सईदा दानिया शाह (Syeda Dania Shah) से बुधवार को निकाह किया. इमरान की सत्ताधारी पार्टी के सांसद की इस शादी को लेकर पड़ोसी मुल्क में खूब चर्चा हो रही है. यहां गौर करने वाली बात ये है कि जिस दिन आमिर ने शादी रचाई, उसी दिन पाकिस्तानी सांसद ने अपनी दूसरी पत्नी को तलाक भी दिया था.

डॉ आमिर लियाकत हुसैन ने इंस्टाग्राम पर अपनी नई पत्नी को लेकर लिखा, ‘पिछली रात 18 साल की सईदा दानिया शाह के साथ शादी रचाई है.’ उन्होंने आगे कहा, ‘वह दक्षिण पंजाब के लोधरण के एक सम्मानीय नजीब उत तरफैन सादात परिवार से ताल्लुक रखती हैं.’ पाकिस्तान सांसद ने अपने पोस्ट में अपनी तीसरी पत्नी के तारीफों के पुल बांधें. उन्होंने आगे कहा, ‘सईदा बेहद प्यारी, खूबसूरत, सिंपल और डार्लिंग हैं. मैं अपने सभी शुभचिंतकों से निवेदन करना चाहूंगा कि वो हमारे लिए दुआ करें. मैंने अभी-अभी जिंदगी के बुरे समय को पीछे छोड़ा है. वो गलत फैसला था.’

आमिर लियाकत हुसैन की दूसरी पत्नी ने क्या कहा?
महीनों की अटकलों के बाद बुधवार को इमरान की पार्टी के सांसद की दूसरी पत्नी और अभिनेत्री तुबा आमिर ने पुष्टि की कि उन्होंने हुसैन से तलाक लेने का फैसला किया है. इसके लिए अर्जी डाल दी गई है. इंस्टाग्राम पर एक बयान साझा करते हुए तुबा ने खुलासा किया दोनों लोग 14 महीने पहले ही अलग हो चुके हैं. सुलह की कोई उम्मीद नहीं होने का हवाला देते हुए तुबा ने आगे कहा कि उन्होंने अदालत से तलाक लेने का विकल्प चुना है.

तुबा आमिर ने इंस्टाग्राम पर लिखा, ‘बहुत भारी मन से मैं आप सभी लोगों को मेरे जीवन में हो रही घटनाओं के बारे में बताना चाहती हूं. मेरे करीबी परिवार और दोस्तों को पता है कि 14 महीने पहले अलग होने के बाद यह स्पष्ट हो गया था कि हमारे बीच सुलह की कोई उम्मीद नहीं थी. इसलिए मैंने अदालत से तलाक को लेने का विकल्प चुना.’ उन्होंने बयान में आगे कहा गया, ‘मैं यह बता नहीं कर सकती हूं कि ये कितना कठिन रहा है, लेकिन मुझे अल्लाह और उसके प्लान पर भरोसा है. मैं सभी से अपील करूंगी कि इस कठिन समय में मेरे फैसले का सम्मान किया जाए.’

Leave a Reply

Your email address will not be published.