Sun. Nov 27th, 2022

MP : पोलिटिकल एंड इलेक्शन ट्रायल … उपचुनाव में पूरी ताकत झोंक रहे हैं नेता पुत्र

Share

भोपाल। मध्य प्रदेश में हो रहे उपचुनाव में प्रदेश के नेता पुत्रों की एंट्री है। अभी तक ये नेता पुत्र अपने परिजन के लिए प्रचार करते थे। अब वे पार्टी के प्रत्याशी के पक्ष में प्रचार कर रहे हैं। कहा जा सकता है कि ये सब चुनाव लड़ने, लड़ाने की ट्रेनिंग ले रहे हैं। खेल मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया के 38 साल के बेटे अक्षय भंसाली ने पहली बार पोहरी में हुई नुक्कड़ सभा में शामिल हुए। इससे पहले वो सिर्फ शिवपुरी में अपनी मां के लिए प्रचार करते देखे गए थे।
27 साल के कार्तिकेय चौहान सीएम शिवराजसिंह चौहान के पुत्र हैं। कार्तिकेय पोहरी में प्रचार करते नजर आए। 2018 में भी कार्तिकेय के चुनाव लड़न की चर्चा सामने आई थी। लेकिन बाद में कार्तिकेय ने इसे सिरे से खारिज कर दिया था।
केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के पुत्र देवेंद्र तोमर की उम्र अभी 32 साल है। वो अपने भाई प्रबल तोमर के साथ चुनावी सभा लेते नजर आ रहे हैं। दोनों भाई ग्वालियर पूर्व, दिमनी, और अंबाह विधानसभा क्षेत्रों का दौरा कर चुके हैं। पिछले चुनावों में भी दोनों नजर आए थे। लेकिन इस बार सक्रियता अधिक नजर आ रही है।
पूर्व मंत्री डॉक्टर गोविंद सिंह के बेटे डॉक्टर अमित सिंह उपचुनाव में बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं। डॉक्टर अमित गोहद, भांडेर और मेहगांव सीट पर सक्रिय हैं। वो इन सीटों पर जनसंपर्क के साथ नुक्कड़ सभाओं में शामिल हो रहे हैं। नेता पुत्रों की इस सक्रियता का कांग्रेस पार्टी ने स्वागत किया है… पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा है कि सबका स्वागत है।

नेता पुत्रों के प्रचार में दिलचस्प बात ये है कि उनके दौरों में जातिगण गणित का पार्टियों ने पूरा ख्याल रखा है। इन युवाओं को उन्हीं सीटों पर भेजा जा रहा है, जहां उनकी जाति का वजूद है। पोहरी में धाकड़ समाज का अच्छा खांसा वोट बैंक है। बीजेपी ने वहां कार्तिकेय चौहान को भेजा है। आगामी जनसंपर्क भी ऐसे ही क्षेत्रों में तय किया जा रहा है। ग्वालियर पूर्व, दिमनी और अंबाह सीट क्षत्रिय बाहुल है तो… बीजेपी ने यहां देवेंद्र तोमर और प्रबल तोमर को भेजा है।
दूसरी सीटों भी इनके दौरे तय किए जा रहे हैं। इसी क्षेत्र से लगी सीट गोहद, भांडेर और मेहगांव भी क्षत्रिय बाहुल क्षेत्र हैं।कांग्रेस ने यहां डॉ. अमित सिंह की डयूटी तय की है। डॉ. गोविंद सिंह अगला विधानसभा चुनाव नहीं लड़ने का ऐलान कर चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.