Wed. Feb 24th, 2021

दिल्ली से लंदन के बाद इंडिया से सिंगापुर करें बस का सफर, बुकिंग शुरू

नई दिल्ली। भारत से यूनाइटेड किंगडम यानी दिल्ली से लंदन (Delhi to London Bus) तक बस से सफर करने के बाद अब एडवेंचर यात्रियों (Adventure Travel) के लिए मौका है कि वा भारत से सिंगापुर तक सड़क मार्ग से यात्रा कर सकें. गुरुग्राम बेस्ड एक यात्रा कंपनी ने जिस तरह की यात्रा के लिए बुकिंग (Travel Booking) शुरू की है, वो पांच देशों को कवर (Cross Border Journey) करने वाली है और एक तरफ से 20 दिनों का समय लेगी. 4500 किलामीटर से भी लंबे इस सफर में कई तरह के रोमांच यात्रियों के लिए होंगे क्योंकि काफी लंबा रूट समुद्री किनारों से गुज़रता है.

ज़ाहिर है कि भारत से सिंगापुर के लिए अगर आप फ्लाइट लेते हैं तो कुछ ही धंटों में पहुंच सकते हैं, लेकिन यात्रा का रोमांच और अनुभव फ्लाइट से मिलना मुश्किल है. बस सेवा के ज़रिये इस तरह का अनुभव लिया जा सकता है. एडवेंचर आवेरलैंड कंपन ने भारत से द्वीप देश सिंगापुर तक की बस यात्रा के लिए बुकिंग शुरू की है, जो कि इस साल 14 नवंबर से शुरू होगी. जीवन का एक यादगार अनुभव होने वाली इस यात्रा के बारे में सब कुछ जानिए.

कहां से शुरू होगी यात्रा और क्या होगा रूट?
भारत के पूर्वोत्तर के राज्य मणिपुर की राजधानी इम्फाल से यह बस यात्रा शुरू होगी जो बीच में तीन देशों म्यांमार, थाईलैंड और मलेश्यिा होते हुए सिंगापुर पहुंचेगी. इम्फाल से म्यांमार के कोल, बगान होते हुए यंगून से थाईलैंड में प्रवेश किया जाएगा. यहां बैंकॉक और क्राबी होते हुए मलेशिया में बस एंट्री लेगी और फिर कुआलालंपुर से सिंगापुर तक पहुंचेगी.

बस में क्या सुविधाएं होंगी?
आरामदायक सीटों के बीच में पर्याप्त स्टिेंस और पार्टिशन होगा ताकि प्राइवेसी बनी रहे. इसके अलावा बस में टॉयलेट की सुविधा होगी. एक छोटा सा किचन होगा, जहां से कुछ चीज़ें मिल सकेंगी. वैसे रेडी टू ईट फूड का इंतज़ाम बस में होगा. अलकोहल ड्रिंक और फर्स्ट एड की सुविधा भी बस यात्रा में दी जाएगी. और वाई फाई कनेक्टिविटी यात्रियों के लिए रहेगी.

बुकिंग का तरीका और किराया?
भारत से सिंगापुर तक की बस यात्रा के लिए कंपनी ने ऑनलाइन बुकिंग शुरू की है, जो पहले आओ पहले पाओ के आधार पर है क्योंकि इस बस में सिर्फ 20 यात्री ही सफर कर सकेंगे. एक यात्री को 6.25 लाख रुपये किराया चुकाना होगा. इस रकम में यात्रा के दौरान लॉजिंग यानी रुकने की व्यवस्था, भोजन, ट्रांसपोर्ट, वीज़ा शुल्क, एयरपोर्ट ट्रांसफर आदि अन्य सुविधाएं भी शामिल होंगी.

यात्रा के लिए क्या ध्यान रखें?
इस बस से सिंगापुर तक की यात्रा करने वाले यात्रियों का पापसेर्ट सबसे पहले 2022 तक वैध होना चाहिए. चूंकि यह यात्रा पांच देशों को कवर करेगी इसलिए वीज़ा की ज़रूरत होगी. कंपनी ने वीज़ा अरेंज करने का ऑफर दिया है. एक खास बात जो आपको इस यात्रा में ध्यान रखना होगी कि अगर आप कोई खास दवाएं आदि लेते हैं, तो उन्हें अपने साथ रखें. यह भी खयाल रखें कि ज्त्रयादातर रूट पर वेज भोजन उपलब्ध होगा लेकिन बहुत विकल्प नहीं होंगे.यह हिदायत भी दी गई है कि करंसी एक्सचेंज के लिए यूरो या अमेरिकी डॉलर कैरी करना बेहतर हो सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *