Fri. Apr 16th, 2021

मध्यप्रदेश में ऐसी है स्वास्थ्य सेवा ….. वाहन नहीं दिया तो पिता ठेले पर ले गया बेटे का शव

गुना। संदेहास्पद स्थिति में मंगलवार को हुई एक युवक की मौत के बाद भी समय पर पीएम न कर शव को घर भेज दिया गया। युवक के पिता ने इस पर आपत्ति ली और वह शव को बाइक से फिर स्वास्थ्य केंद्र लेकर पहुंचा। इसके बाद बुधवार काे पीएम कराया गया। असली कहानी इसके बाद शुरू होती है…जब शव ले जाने ने अस्पताल प्रबंधन ने कोई वाहन उपलब्ध नहीं कराया तो पिता ने एक हाथ ठेला किराए पर लिया और शव ले जाने लगा। इस शर्मसार घटना को देख नागरिक मंच कुंभराज और लोगों ने आपत्ति लेकर हंगामा किया, तब पुलिस ने एक ऑटो से शव के घर तक भिजवाया।

सवाल: समय पर पीएम क्यों नहीं हुआ
कुंभराज गीता नगर निवासी नितेश राव की संदेहास्पद स्थिति में मौत हो गई थी। मृतक के पिता हेमराज राव ने बताया कि उनके बेटे की अचानक तबीयत बिगड़ी। मंगलवार दोपहर 3.30 बजे स्वास्थ्य केंद्र कुंभराज पहुंचे तो डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। इसके बाद कहा कि शव को ले जाएं। पिता को लगा कि पीएम होना चाहिए। पुलिस ने पंचनामा बनाया। पिता का कहना है कि वह शव को फिर से अस्पताल ले गया लेकिन समय रहते पीएम नहीं हो सका। इसलिए शव को पीएम रूम में रखवा दिया।

सुबह हुआ हंगामा, तब आई पुलिस
बुधवार सुबह 9 बजे युवक का पीएम हुआ, शव को परिजन ले जाने लगे तो कोई गाड़ी तक नहीं मिली। पिता का कहना है कि पैसे नहीं थे, इससे ठेला किराया से लेकर शव ले जा रहे थे। मृतक ढोल बजाकर अपनी जीविका चलता था, लेकिन लॉकडाउन के बाद से ही आर्थिक तंगी से गुजर रहे थे। ठेले से जब शव ले जाने लगे तो नागरिक मंच कुंभराज ने आपत्ति ली, और कहा कि विकास के नाम पर करोड़ों खर्च हो रहे हैं, एक शव वाहन तक नहीं है। इसके बाद हंगामा हुआ तो पुलिस पहुंची और ऑटो से शव को भेजा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *