Mon. Oct 3rd, 2022

थाने पहुंची महिला बोली- पति मैचिंग साड़ी, लिपिस्टिक और चूड़ी नहीं दिलाते, केस दर्ज करो

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में पुलिस ने महिला उत्पीड़न के मामलों की त्वरित सुनवाई और समाधान के लिए हर एक थाने में महिला हेल्प डेस्क स्थापित किया है. मिशन शक्ति के तहत स्थापित किए गए इस महिला हेल्प डेस्क की शुरुआत हुए अभी कुछ दिन ही हुए हैं. रोज महिलाएं अपनी समस्याओं को लेकर यहां पर पहुंच रही हैं और अपनी शिकायत दर्ज करा रही हैं. जिनमें ज्यादातर मामले घरेलू हिंसा से संबंधित बताए जा रहे हैं. लेकिन चंदौली के थाने में स्थापित किए गए महिला हेल्प डेस्क एक ऐसा केस पहुंचा जिसे जानकर आप हैरान रह जाएंगे.
शिकायतकर्ता महिला ने अपने पति पर आरोप लगाया कि उसके पति उसे मैचिंग की साड़ी, लिपस्टिक, चूड़ी और मेकअप का सामान नहीं दिलवाते हैं. लिहाजा उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाए. इस अजीबोगरीब शिकायत को सुनने के बाद वहां पर तैनात महिला पुलिसकर्मी हक्की-बक्की रह गई. बताया जाता है कि बाद में शिकायत लेकर आई महिला को पुलिस कर्मियों ने काफी समझाया बुझाया और तब जाकर महिला मानी और महिला हेल्प डेस्क पर तैनात महिला पुलिसकर्मियों ने समझा बुझाकर उसे वापस घर भेज दिया.
चंदौली कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले मझवार मोहल्ले की एक विवाहिता सोमवार की दोपहर चंदौली कोतवाली में स्थापित किए गए महिला हेल्प डेस्क पर पहुंची. महिला हेल्प डेस्क पर मौजूद महिला पुलिसकर्मियों ने जब इस महिला से इसकी शिकायत सुनी तो कुछ देर के लिए तो उनको समझ में ही नहीं आया कि वह करे तो क्या करें.
अपने पति की शिकायत लेकर पहुंची महिला ने बताया कि उसके पति उसे मैचिंग की साड़ी लिपस्टिक और चूड़ी नहीं दिलवाते हैं साथ ही साथ जब गैस खत्म हो जाती है तो उपले और लकड़ी पर खाना बनाने के लिए कहते हैं. महिला ने वहां मौजूद पुलिसकर्मियों को बताया कि पति की इन हरकतों से तंग आ गई है और वह चाहती है कि पुलिस इस मामले में उचित कार्रवाई करे.
शिकायतकर्ता महिला की बातें सुनकर महिला पुलिस कर्मियों को समझ में नहीं आ रहा था कि आखिर वे करें तो क्या करें. इसके बाद वहां मौजूद महिला पुलिस कर्मियों ने शिकायत करने आई महिला को काफी समझाया बुझाया और काउंसलिंग की. इसके बाद वह महिला मानी और वापस घर चली गई. इस संदर्भ में चंदौली के प्रभारी निरीक्षक अशोक कुमार मिश्रा ने बताया कि महिला शिकायत लेकर आई थी और हेल्पडेस्क पर मौजूद महिला पुलिसकर्मियों ने उस की काउंसलिंग की. साथ ही साथ उसके पति को भी फोन पर समझाया. इसके बाद महिला वापस अपने घर चली गई.
उत्तर प्रदेश पुलिस ने महिला अपराधों पर प्रभावी नियंत्रण के लिए मिशन शक्ति की शुरुआत की है. इस अभियान के तहत महिलाओं को जागरूक करने के लिए यूपी पुलिस के द्वारा विभिन्न तरह के कार्यक्रम भी आयोजित किये जा रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.